Google Bug Bounty प्रोग्राम गूगल ने $1000 की इनामी राशि निश्चित

Google Bug Bounty प्रोग्राम स्टार्ट किया है. इसे Android को पहले के मुकाबले और भी ज्यादा सिक्योर करने के लिहाज से बग बाउंटी प्रोग्राम शुरु किया है. इस प्रोग्राम के अंतर्गत हैकर या सिक्योरिटी रिसर्चर्स को Android ऐप्स में बग ढूंढने के लिए आमंत्रित किया है.

बग बाउंटी प्रोग्राम का नाम गूगल ने प्ले सिक्योरिटी रिवार्ड रखा है. इसके तहत गूगल अपने एंड्रॉयड एप्लीकेशन को और भी सिक्योर करना चाहता है, जिसके तहत हैकर या सिक्योरिटी रिसर्चर्स Android एप्प डेवलपर के साथ बग ढूंढने और उन्हें ठीक करने का काम करेंगे इसके लिए गूगल ने $1000 की इनामी राशि निश्चित की है.

Google Bug Bounty

इस प्रोग्राम का उद्देश्य सिक्योरिटी को बढ़ाना है जो डेवलपर के लिए काफी फायदेमंद साबित होगी इतना ही नहीं यह एंड्रॉयड यूजर और पूरे Google Play  इकोसिस्टम के लिए भी काफी फायदेमंद होने वाला है.

Google ने इसके लिए बग बाउंटी प्लेटफार्म HackerOne के साथ साझेदारी की है जो इसे मैनेज करेगा.HackerOne एक प्लेटफार्म है जो इंटरनेट और साइबर सिक्योरिटी रिसर्चर्स के बीच कड़ी का काम करता है और यह इस तरह का सबसे बड़ा साइबर सिक्योरिटी प्लेटफॉर्म है.

HackerOne के तहत Google एंड्रॉयड एप्लीकेशन में मिली खामियों के बारे में रिपोर्ट कर सकेंगे और जिसे उनके साथ मिलकर फिक्स किया जा सकेगा जिससे Android पहले के मुकाबले ज्यादा सिक्योर हो जाएगा,

बग बाउंटी प्रोग्राम के जैसे ही हम आपको बता दें कि दुनिया भर की बड़ी टेक कंपनियां जैसे Facebook और Google बग बाउंटी प्रोग्राम चलाती हैं  इसमें कुछ  खामियों का पता लगाया जाता है जिसके बाद कंपनी उस  बग को फिक्स करके ढूंढने वाले को रिवार्ड देती है.

फेसबुक बग बाउंटी प्रोग्राम में भारतीय सबसे आगे हैं जिसमें राजस्थान के कोटा के एक व्यक्ति ने काफी सारे रिवार्ड लिए हुए हैं. और भारतीय हैकर इस तरह के बग ढूंढने में सबसे आगे होते हैं और वह करोड़ों के इनाम तक जीत चुके हैं. Google बग बाउंटी प्रोग्राम $1000 की इनामी राशि निश्चित..

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here