two line shayari in hindi font – best shayri in Hindi

एक चेहरे में तो मुमकिन नहीं इतने चेहरे
किस से करते जो कोई इश्क़ दोबारा करते
~उबैदुल्लाह अलीम

 

======== jigyasaa.com ========

 

ख़ूब पर्दा है कि चिलमन से लगे बैठे हैं
साफ़ छुपते भी नहीं, सामने आते भी नहीं
~दाग़ देहलवी

 

======== jigyasaa.com ========

ये इल्म का सौदा, ये रिसाले ये किताबें
इक शख़्स की यादें भुलाने के लिए हैं..

~जां निसार अख़्तर

 

======== jigyasaa.com ========

ये तेज़ रौशनी रातों का हुस्न खा गई है
तुम्हारे शहर में हम अपनी चाँदनी से गए
#इरफ़ान_सत्तार

 

 

======== jigyasaa.com ========

 

सांस भी लूं तो उसकी मैहैक आती है
उसने छोड़ा है इतने करीब आने के बाद

 

 

======== jigyasaa.com ========

 

 

क्यूं आए तुम लौट कर फिर से मेरा हाल जानने,
पता नहीं क्या तुम्हारे सामने मैं ठीक ही रहता हूं।

 

======== jigyasaa.com ========

2 line shayri
2 line shayri

 

मेरा ज़मीर बहुत है मुझे सज़ा के लिए
तू दोस्त है तो नसीहत न कर ख़ुदा के लिए
~शाज़ तमकनत

 

======== jigyasaa.com ========

 

 

अब्र बरसते तो इनायत उस की
शाख़ तो सिर्फ़ दुआ करती है

परवीन शाकिर

 

 

======== jigyasaa.com ========

 

 

“बहोत अंदर तक जला देती है,
वो शिकायतें जो बयाँ नही होती…”

 

======== jigyasaa.com ========

 

Two Line shayri hindi
2 line shayri

ख़्वाब जो देखे न थे, उन की सज़ा तो मिल गई
बारहा देखा जिन्हें, उन का सिला मिलता नहीं
~अमीक़ हनफ़ी

 

 

======== jigyasaa.com ========

 

 

मेरी ही बात सुनती है मुझी से बात करती है
कहाँ तन्हाई घर की अब किसी से बात करती है
~भारत भूषण पन्त

 

======== jigyasaa.com ========

 

 

अश्क मेरे मुझसे मुस्कुराने की इज़ाजत मांगे
इक बार चले आओ उलफत इबादत मांगे।
अंजलि अरोड़ा “खुश्बू”

 

======== jigyasaa.com ========

2 line shayri
2 line shayri

 

हैरान रह गया आज तेरे पुराने खत पढ़के ,
ऐ दोस्त कभी हम बड़े अजीज हुआ करते थे।

 

 

======== jigyasaa.com ========

 

 

चुभन ये पीठ में कैसी है मुड़ के देख तो ले
कहीं कोई तुझे पीछे से देखता होगा
#शीनकाफ़निज़ाम

 

 

======== jigyasaa.com ========

 

इक चुभन है कि जो बेचैन किए रहती है,
ऐसा लगता है कि कुछ टूट गया है मुझमें
-इरफ़ान सत्तार

 

 

======== jigyasaa.com ========

 

 

आँखों में ख़्वाब चुभन सोने नहीं देती है
एक मुद्दत से हमें तू ने जगा रक्खा है

 

======== jigyasaa.com ========

Two line shayri hindi
Two line shayri hindi

ख़ुद-कुशी करने पे आमादा ओ मजबूर हैं अब
ज़िंदगी! ये हैं तेरे इश्क़ में मरते हुए लोग
#तारिक़_क़मर

 

======== jigyasaa.com ========

 

नही थे पैसे एक दिन पीने के लिये तो यूँ किया….
डूबोई उनकी तस्वीर पानी मे और घूँट घूँट पी लिया…!

 

 

======== jigyasaa.com ========

 

 

तितलियां ख़ून मेरा चूसने आ जाती है,

मैनें कुछ ज़ख्म तराशे है गुलाबो जैसे.

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here